aarthik asmanta ke khilaf ek aawaj

LOKTANTR

166 Posts

520 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 8115 postid : 805531

साम्प्रदायिकता कांग्रेस के लिए फिर से मुद्दा

Posted On: 19 Nov, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

लोकसभा चुनाव में करारी हार झेल चुकी कांग्रेस पार्टी अभी भी अपना पुराना राग अलाप रही है , शायद कांग्रेस भूल रही है की पिछले लोकसभा चुनव में न दलित मुद्दा था न पिछड़ी जाती मुद्दा था न अल्पसंख्यक मुस्लिम मुद्दा था .जनता को बदलाव चाहिए था ,बल्कि जनता कांग्रेस पार्टी के अक्षम प्रधानमंत्री को फिर से सत्ता में लाना ही नहीं चाहती थी जिनके राज में घपले घोटाले और भ्र्ष्टाचार का बोल बाला रहा बेशक प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह एक ईमानदार छवि वाले प्रधानमंत्री थे , बहुत बड़े अर्थशास्त्री भी हैं .पर उनकी नाक के निचे घपले घोटाले होते रहे और वे उन घोटालों के लिए जांच करने को भी नकारते रहे ,यहाँ तक की उन्होंने देश की संवैधानिक संस्था कैग को नकारते रहे उनके नेता पिछले कैग प्रमुख को राजनीती से प्रेरित कहते रहे , नतीजा यह हुवा की पूरे देश में कांग्रेस ४४ सीटों पर सिमट के रह गयी ,इस राष्ट्रिय पार्टी को बिपक्क्ष में बैठने का भी अधिकार नहीं मिला और कांग्रेस आलाकमान सोनिया अपने पुत्र मोह में जकड़ीं रहीं और अक्षम अनुभवहीन राहुल को ही पार्टी का मुखिया बनाने का निश्चय किया, जो कांग्रेस की नईया डुबोने के आलावा उबारने का काम नहीं कर सकते .अब कांग्रेस बी जे पी को फिर से सम्प्रदायक कहना शुरू की है क्या कांग्रेस के सम्प्रदायक कह देने से देश की जनता खासकर मुस्लिम ऐसा समझने को तैयार हैं हरगिज नहीं और राज्यों की क्षेत्रीय पार्टियां फिर से एकजुट होने का प्रयास करने लगीं हैं जो संभव नहीं लगता क्यूंकि इन पार्टियों का गोवा कौन होगा यह तय नहीं हो पा रहा है और कांग्रेस भी इनसे दूरी बना रही है अभी हरयाणा और महाराष्ट्र में चुनाव हुए दोनों हैं प्रदेशों में बी जे पी ही जीती है हरयाणा में तो बी जे पी की बहुमत की सरकार है पर महाराष्ट्र में बी जे पी अल्पमत में है . झारखण्ड और जम्मू कश्मीर में चुनाव होने हैं
इन राज्यों में भी बी जे पी जीत दर्ज कराएगी ऐसा पार्टी अध्यक्ष का कहना है . पिछले दिनों कश्मीर बढ़ आने से बहरी तबाही मची थी और वहां की उम्र अब्दुल्ला सरकार उस त्रासदी को सम्हालने में अक्षम रही थी अतः वहां भी जनता में गुस्सा है .मोदी जी ने उन मुसीबत के दिनों में ४ बार कश्मीर का दौरा किया था उस दौरान और वहां की जनता को हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया था और जनता को मदद भी मुहैय्या करायी गयी अतः जनता की
सहानुभूति इस समय बी जे पी से ही दिखलायी दे रही है कम से कम जम्मू में ऐसा ही दिखलायी दे रहा है अतः ऐसे में कांग्रेस का सांप्रदायिक कार्ड भुनाया नहीं जा सकता जनता सब देख रही है कांग्रेस को ६० साल देखा है अब जनता बी जे पी को ही मौका देने वाली है . अभी हाल के दिनों मोदी अमेरिका दौरे पर गए और जितना समर्थन और स्वागत वहां की जनता ने मोदी जी का किया उतना विगत ३० सालों में किसी पार्टी मुखिया या देश के प्रधानमंत्री को नहीं मिला . अभी प्रधानमंत्री मोदी म्यांमार ,ऑस्ट्रेलिया फिजी इन देशों के दौरे पर पर हैं और टेलीविजन पर देखने को मिल रहा है देश की जनता को की कैसा जान समर्थन मोदी जी को विदेशों में मिल रहा है मोदी जी को सुनने के लिए हजारों की संख्या में पूरी की पूरी रेलगाड़ी आरक्षित करके लोग मोदी को सुनने पहुँच रहें हैं कोई तो जरूर कोई करिश्मा है मोदी जी के भाषणों में सिडनी में एक ट्रेन ही चलायी गयी जिसका नाम “मोदी एक्सप्रेस “रखा गया मोदी जी ने विदेशी dharti पर भी भारत का नाम रौशन किया है और भारत के मान सम्मान को बढ़ने का काम किया है यहाँ तक की वहां के युवा लोगों को प्रेरित किया है की भारत के विकास में योगदान दें और मुझे लगता है बहुत जल्द यहाँ nivesh aayega lal fita shahi खत्म होगी विदेश के लोग punji लगाएंगे . जिससे देश के बेरोजगार को नौकरियां मिलेगी और देश के गरीब लोग भी खुशहाली की और बढ़ेंगे .
कांग्रेस पार्टी को समझना होगा की बी जे पी अब जनता के लिए सांप्रदायिक नहीं रही agar कोई पार्टी बी जे पी को सांप्रदायिक kahti है वे virodhi पार्टियां और कांग्रेस है देश की जनता और देश का मुस्लिम समुदाय भी तरक्की karna चाहता है अतः जो उनको(मुस्लिमों )को अवसर देगा उसी पार्टी का समर्थन इस देश के मुस्लिम भी करेंगे

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran